अब विप्र स्कॉलर्स प्रोग्राम का नाम होगा “वैद्द्य पण्डित रामनारायण शर्मा विप्र---

अब विप्र स्कॉलर्स प्रोग्राम का नाम होगा “वैद्द्य पण्डित रामनारायण शर्मा विप्र उच्च शिक्षा सहयोग योजना”

रामनारायण शर्मा विप्र उच्च शिक्षा सहयोग योजना

कोलकाता, 19 मई 2017 कोलकाता नगर स्थित ललित ग्रेट ईस्टर्न होटल में आयोजित भव्य समारोह में वैद्यनाथ आयुर्वेद भवन के सौवें साल में विप्र फाउण्डेशन ने वैद्यनाथ आयुर्वेद भवन के प्रणेता श्रद्धेय बाऊ जी की पावन स्मृति में वैद्द्य पण्डित रामनारायण शर्मा को सच्ची श्रृद्धांजलि अर्पित करते हुए विफा के महती प्रकल्प “विप्र स्कॉलर्स प्रोग्राम’ का नाम बदल कर “वैद्द्य पण्डित रामनारायण शर्मा विप्र उच्च शिक्षा सहयोग योजना” रखा है। आयुर्वेद को पुनः प्रतिष्ठित करने में इस आरोग्य मंदिर का प्रशंसनीय व अविस्मरणीय योगदान रहा है। देश के करोड़ों लोगों को स्वास्थ्य लाभ पहुँचाने, आमजन को आयुर्वेद से परिचित करने, हजारों लोगों को रोजगार दिलाने और परमार्थ सेवा का सन्देश देने में वैद्द्यनाथ घराने का महती योगदान है। ऐसे स्वनामधन्य संसथान के संस्थापकों के प्रति सश्रृद्धा नमन करते हुए विप्र फाउण्डेशन शताब्दी वर्ष के गौरवमयी अवसर सम्मान स्वरुप युवाओं की उच्च शिक्षा निमित चल रही अपनी व्याज रहित ऋण योजना का नाम “वैद्द्य पण्डित रामनारायण शर्मा विप्र उच्च शिक्षा सहयोग योजना”करने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर विप्र फाउण्डेशन के राष्ट्रीय महामंत्री श्री श्रीकिशन शर्मा ने कहा कि उच्च शिक्षा के शिक्षार्थी आवेदन कर सकेंगे, जिन्हें ५० हज़ार तक की सहयोग राशि प्रदान की जायेगी और प्रत्येक सप्ताह कम से कम एक नये आवेदन को स्वीकृत किये जाने का वर्तमान लक्ष्य निर्धारित। आज इस मौक़े पर गुवाहाटी के एक छात्र को सहयोग का चेक प्रदान किया गया। शिक्षा पूर्ण करने के उपरान्त सहयोग प्राप्त राशि के समान राशि का आर्थिक सहयोग संस्था को प्रदान करने की प्रतिबद्धता रहेगी, जिससे दूसरे छात्रों को मदद मिल सके। डॉ. महेन्द्र शर्मा, नागपुर के मुख्य संयोजन में पाँच सदस्यीय समिति को संचालन का कार्यभार सौंपा गया ।