विप्र फाउंडेशन की नि:शुल्क परामर्श के लिए “विप्र राष्ट्रीय विधि समिति” का---

विप्र फाउंडेशन की नि:शुल्क परामर्श के लिए “विप्र राष्ट्रीय विधि समिति” का गठन।

कोलकाता 17 मई 2020। विप्र फाउंडेशन की राष्ट्रीय परिषद की ऑनलाइन मीटिंग में सर्व समाज के हितार्थ वरिष्ठ अधिवक्ता श्री हस्तीमल जी सारस्वत के प्रभार में पांच सदस्यीय “विप्र राष्ट्रीय विध समिति” का गठन किया गया है। जिनमे वरिष्ठ अधिवक्ता श्री हस्तीमल सारस्वत, अधिवक्ता श्री राजेश जोशी, अधिवक्ता श्री कैलाश सारस्वत, अधिवक्ता श्री मोतीसिंह राजपुरोहित और श्री अतुल डोभाल शामिल है। विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महावीर प्रसाद शर्मा ने बताया कि कोरोना के चलते ऑनलाइन परामर्श और वह भी नि:शुल्क उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया गया है। सभी राज्यों के अधिवक्ताओं को इस पैनल में शामिल किया जा रहा है। जोधपुर के जाने-माने वरिष्ठ अधिवक्ता श्री हस्तीमल सारस्वत के नेतृत्व में गठित “विप्र राष्ट्रीय विध समिति” में जयपुर में जयपुर बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता श्री राजेश कर्नल को समिति का मुखिया बनाया गया है। पैनल में सम्मिलित अधिवक्ताओं के दूरभाष नंबर एवं अन्य जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध रहेगी। आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए इस पैनल के माध्यम से नि:शुल्क पैरवी भी किए जाने की योजना है। संस्था के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री आर.के. ओझा ने बताया कि इससे गरीब विप्र परिवारों को विधि सम्मत लगने वाले लम्बे खर्चों से मुक्ति मिलेगी।