विप्र फाउंडेशन की बैठक में नये प्रकल्पों की घोषणा।

विप्र फाउंडेशन की बैठक में नये प्रकल्पों की घोषणा।

गुड़गांव, 24 फ़रवरी 2019। सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः की अवधारणा से प्रेरित कई प्रकल्पों पर कार्यों की सफलता के बाद इस बार दो नये प्रकल्पों की घोषणा की। “आरोग्य साथी” नाम के इस प्रकल्प में निरंतर महँगी होती जा रही चिकित्सा व्यवस्था को ध्यान में रख कर मेडिकल इक्विपमेंट बैंक की स्थापना सर्व प्रथम जयपुर में अप्रैल माह से कर दी जाएगी। आज दिन २५/- से लेकर २५०/- प्रतिदिन भाड़े में मिलने वाले उपकरण विप्र फाउंडेशन आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को प्रतिदिन मात्र १/- टोकन मनी लेकर भाड़े पर दिये जायेंगे। “आरोग्य साथी” नामक इस पायलट प्रोजेक्ट का दायित्व जयपुर के धन्वन्तरी अस्पताल के सीईओ श्री सुनील शर्मा को सौंपा गया है। द्वितीय प्रकल्प “बाबू मोशाय” एक ऐसा प्रकल्प है जो सरकारी योजनाओं और उससे मिलने वाले फायदों की जानकारी उपलब्ध कराएगा और समाजजनों के साथ मिलकर संवाहक के रूप में सहयोग करेगा। इसका नेतृत्व राष्ट्रीय सचिव श्री कुलदीप राजपुरोहित करेंगे। ये दोनों प्रकल्प आज जन-जन को लाभान्वित करेंगे।