विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय परिषद की बैठक संपन्न।

विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय परिषद की बैठक संपन्न।

कोलकाता, 17 मई 2020 । विप्र फाउंडेशन की राष्ट्रीय परिषद् की वार्षिक बैठक का आयोजन किया गया। चूँकि भारतवर्ष में लॉक डाउनके चलते इस बैठक को वीडियो कॉन्फ्रेंस (ज़ूम) के रूप में रखा गया। इस बैठक में देश भर से 217 प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया। इस बैठक में वर्ष 2020/22 हेतु राष्ट्रीय व प्रान्तीय कार्यकारिणी का गठन निर्वाचन या मनोनयन द्वारा सर्व सम्मति किया गया। रायपुर विधायक श्री सत्यनारायण शर्मा के मुख्यत्व में 21 सदस्यीय संरक्षक मण्डल का गठन किया गया जिसमे अध्यात्म, शिक्षा, प्रशासन, साहित्य, उद्योग, व्यवसाय, प्रोफेशन, राजनीति क्षेत्र के दिग्गज व्यक्ति संरक्षक मण्डल में शामिल किये गए। मुंबई के महावीरप्रसाद शर्मा को पुनः राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर सुशोभित किया गया तथा 101 सदस्यीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी गठित की गयी। इस नवगठित कार्यकारिणी में 34 नये चेहरे, देश-विदेश के 57 स्थानों से प्रतिनिधित्व एवं ब्राह्मण समाज की 22 उपजातियों को स्थान दिया गया। मातृ शक्ति को समुचित सम्मान व समान सेवा अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पहली बार 15 महिलाएं शामिल कर नये युग की शुरुआत की गयी। आम जन तक संगठन की पहुँच बढ़ाने के उद्देश्य से देश में अभी होंगी कुल 32 जोनल ईकाईयां, जिनमें से 23 जोनल अध्यक्ष/महामंत्रियों का मनोनयन कर संगठन के व्यापक विस्तार का प्रभावी सन्देश दिया गया। नव जोनल पदाधिकारियों को शीघ्र सभी समितियों/प्रकोष्ठों के पुनर्गठन का कार्य आरंभ करने का निर्देश दिया गया। सांसद श्री रामचरण वोहरा, सांसद श्री सी पी जोशी, विधायक श्री धर्मनारायण जोशी, हास्यकवि श्री सुरेन्द्र शर्मा, वास्तुविद डॉ. धरणीधर शर्मा, डॉ विनोद नोवाल, अर्थशास्त्री प्रो.गौरव वल्लभ, पत्रकार श्री श्रीकान्त पाराशर, विधायक श्री अभिनेष महर्षि, विधायक श्री राकेश पारीक, वीसीसीआई राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री श्याम शर्मा, विप्र सेना प्रमुख श्री सुनील तिवाड़ी आदि अनेक प्रमुख हस्तियाँ बैठक में शामिल रहीं।