अनारक्षित वर्ग से ही खाली पदों को भरें, विप्र फाउंडेशन का ज्ञापन।

अनारक्षित वर्ग से ही खाली पदों को भरें, विप्र फाउंडेशन का ज्ञापन।

जयपुर 25 सितंबर 2020। विप्र फाउंडेशन ने डूंगरपुर में हुई हिंसात्मक घटनाक्रम की निंदा करते हुए शिक्षक भर्ती के रिक्त पदों को अनारक्षित वर्ग से ही भरने की मांग की है। विप्र फाउंडेशन जोन-१ जयपुर संभाग के प्रदेश अध्यक्ष श्री राजेश कर्नल ने राज्यपाल श्री कालराज मिश्र को इस संबंध में एक ज्ञापन भी प्रेषित किया है। जिसमें कहा गया है कि अनारक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को ही कटऑफ प्रतिशत कम करके इन सीटों पर पदापूर्ति करनी चाहिए ताकि अनारक्षित वर्ग का अधिकार सुरक्षित रह सके। श्री कर्नल ने डूंगरपुर में हुई घटना के दोषियों को कड़ी सजा देने की भी मांग की है। श्री कर्नल ने अपने ज्ञापन में मांग की है कि टीएसपी एरिया में रिट 2018 में अनारक्षित सीटों को लेकर 24 सितंबर 2020 को डूंगरपुर में जो घटना हुई है, वह निन्दनीय ही नहीं बल्कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जी के रचित संविधान को शर्मसार करती है और संपूर्ण मानव जाति के लिए एक शर्मसार करने वाली घटना रही है। जिसका विप्र फाउंडेशन कड़े शब्दों में निंदा करता है। आगे श्री कर्नल ने लिखा है कि उक्त पदों के लिए आरक्षित सीटों की कटऑफ 60% रखी गई थी और नियम अनुसार स्थानीय अभ्यर्थियों को 60% नहीं आने पर 1167 सीटें रिक्त रही थी। जिन सीटों पर अनारक्षित वर्ग का अधिकार है। उक्त 1167 सीमा को 60% से घटाकर आरक्षित वर्ग के लिए खुला रखा जाना है। इस संदर्भ में इस ज्ञापन की प्रतिलिपि प्रतिपक्ष के नेता, श्रीमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, श्रीमान सतीश पूनिया प्रदेशाध्यक्ष राजस्थान को भेजी गई है।