सपना हुआ साकार, सूरत ईकाई ने रचा स्वर्णिम इतिहास